http://www.youtube.com/watch?v=VR_Wa_DewGM

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

                     

                                        

 

 

   

 

 

 

 

 

 

 

 

 

3 rd week of june 2014 a mistery fire frightened the household of Dipak Ruidas and as well as the villagers. It is a incident of Bhara village, of Bankura District of West Bengal, India. As usual, we the members of 'Science and Rationalists Association of India' ran to the spot. We interact with Dipak's family and other villagers and disclosed the miracle.

                                                      

  [ कलयुग वार्ता: शुक्रवार 2० जून 2०14]

बांकुड़ा जिले के मेटिया ब्लाक स्थित फाड़ा गांव में पिछले तीन-चार दिनों से एक घर में अपने आप आग लगने की घटना से लोगों में आंतक का माहौल है। गांववालों का कहना है कि यह किसी भूत का कांड है तो युक्तिवादियों का दावा है कि घर में आग लगने के पीछे भूत नहीं बल्कि किसी शरारती दिमाग का काम है।
फाड़ा गांव के निवासी तथा मकान मालिक का नाम दीपक रूईदास बताया गया है। दीपक के चार भाइयों में तीन भाई एक साथ रहते हैं जबकि एक अन्य भाई पास ही अलग रहता है। दीपक का परिवार आर्थिक रूप से काफी दुर्बल है। उसकी चार बेटियों में से मझली बेटी ज्योति ने ही पहली बार देखा था कि उसके घर में अपने आप आग लग रही है जिसे देख वह काफी घबरा गयी। ज्योति के बाद परिवार के अन्य सदस्यों ने भी देखना शुरू किया कि घर में आग लग रही है। मगर आग कैसे लग रही है, उसके बारे में पता नहीं लग पा रहा था।
गांव में अंधविश्वास में डूबे कुछ लोगों का कहना है कि यह किसी भूत का काम है जो उस घर में आग लगाकर लोगों को डरा रहा है। घर में आग लगने के पीछे भूत की करस्तानी की बात पर विश्वास करते हुए गत बुधबार को दीपक के घर एक ओझा को बुलाया गया। ओझा ने तंत्र-मंत्र कर उस घर से आग व भूत को भगाने की कोशिश की और पांच हजार रुपये लेकर चला गया। उसके बाद भी उस घर में अपने आप आग लगने की घटना नहीं थमी। इस बीच स्थानीय बीडीओ और ग्राम पंचायत प्रधान भी दीपक के घर पहुंचे थे। रूईदास के परिवार वालों ने इस समस्या से मुक्त करने की गुहार लगायी।
आखिरकार गुरुवार की सुबह भारतीय विज्ञान व युक्तिवादी समिति के महासचिव तथा बांकुड़ा के निवासी विप्लव दास ने फाड़ा गांव में दीपक रूईदास के घर का दौरा किया। विप्लव दास ने रूईदास परिवारवालों से अलग-अलग बातें की। उन्होंने रूईदास और गांववालों को समझाने की कोशिश की कि आग लगने के पीछे किसी काल्पनिक भूत का हाथ नहीं है। रासायनजनित पदार्थ का इस्तेमाल कर घर में आग लगायी जा रही है। उन्होंने कहा कि स्थानीय प्रशासन की उपस्थिति में अगर इस घर में पहरेदारी की व्यवस्था की जाए तो आग लगने के पीछ के रहस्य का पर्दा उठ सकता है।

Views: 127

Comment

You need to be a member of Atheist Nexus to add comments!

Join Atheist Nexus

Comment by BIPLAB DAS on December 5, 2014 at 9:22pm

It is hindi. It is a news paper cutting covering our case. This daily news paper published from kolkata. This type miracle disclosing is our regular task.

Comment by Michael Penn on December 3, 2014 at 6:07pm

Whatever the cause of the mystery fires you can rest assured that it had nothing to do with god or gods. The cause may remain unknown but it is not supernatural. Saying this also means it had nothing to do with devils or demons. All of these things are imaginary.

About

line

Update Your Membership :

Membership

line

line

Nexus on Social Media:

line

© 2018   Atheist Nexus. All rights reserved. Admin: The Nexus Group.   Powered by

Badges  |  Report an Issue  |  Terms of Service